php का  परिचय

इसे पहले आप php जाने की क्या होता है कैसे काम करता है उससे पहले ये जान ले की html ,CSS क्या होता है

html एक बहुत ही easy और userfull language है html के द्वारा आप वेब pages डिजाईन करते है html के साथ css के उपयोग से आप वेब पेज को और भी सुन्दर बनाते है लेकिन html के सिर्फ वेब pages के structure और designing तक ही सिमित है html के द्वारा सिर्फ static वेब पेज ही क्रिएट किये जा सकते है

हम जानते है की ऐसे कई टास्क है जिससे आप वेब पेज में html के द्वारा perform नहीं कर सकते है example के लिए html के द्वारा आप इनफार्मेशन server पर स्टोर नहीं कर सकते है और server  से कोई भी इनफार्मेशन को access भी नही कर सकते है html के द्वारा आप डेटाबेस से इंटरैक्ट नहीं कर सकते है इसे आप webpages में logical/mathematical tasks को भी perform नहीं कर सकते है

इसी कमियों को पूरा करने के लिए php को html के साथ प्रयोग किया जाता है php के द्वारा आप वो सब भी कार्य कर सकते है जो html के द्वारा नहीं किये जा सकते है

तो हम इन सभी को समझने का प्रयास करते है

what is php?

php एक open source server side scripting language है क्योकि php dynamic webpages develop करने के लिए प्रयोग की जाती है php का पूरा नाम php hypertext preprocessor है पहले इसे personal home pages के नाम से जाना जाता था

  • scripting language वह language होता है जो different एप्लीकेशन को एक साथ जोडती है example के लिए वेब ब्राउज़र और server के बीच में php काम करता है इसलिए php को server side scripting language कहलाती है

javascript  भी एक scripting language है लेकिन javascript को यूजर के cpu और वेब ब्राउज़र के बीच काम करती है इसलिए वह क्लाइंट साइड scripting language कहलाती है

  • dynamic webpages ऐसे वेब pages होते है जो content कुछ events के according change हो जाती है example के लिए एक dynamic web page load होते समय आपकी लोकेशन के हिसाब से आपको आपकी city का current weather बता सकता है

नोट:-ज्यादातर php का syntax c language से मिलता है यदि आपको c language नही पता है तो आप c language के लिंक पर क्लिक कर के पढ़ सकते है

applications of php

php को आप 3 मुख्य तरीके से काम कर सकते है

  • server side scripting- यह php का सबसे मुख्य कार्य होता है php को इसी के लिए डिजाईन किया जाता है इसके लिए आपको एक php parser ,वेब सर्वर और web browser की आवश्यकता होती है
  • command line scripting-आप php कोड को बिना server या ब्राउज़र केभी run कर सकते है इसके लिए आपको सिर्फ php parser की जरुरत होती है इसे आप टेक्स्ट processing के लिए प्रयोग कर सकते है
  • desktop applications-php के द्वारा आप डेस्टोप application को भी क्रिएट कर सकते है

features of php

php के कुछ फीचर होते है जिसको निचे दिया जा रहा है

  • open source-php आपको freely available है इसका कोड publicly डाउनलोड के लिए इन्टरनेट पर available है इसको आप अपने यूजर के according मॉडिफाई कर सकते है (php सॉफ्टवेर को आप फ्री में डाउनलोड कर सकते है )
  • scripting language-php एक scripting language है
  • can be embedded into html –php को easily html के साथ प्रयोग किया जा सकता है
  • generates html-एक्सीक्यूट होने के बाद php कोड simple html के रूप में show हो जाता है
  • server side-php आज के ज्यादातर वेब server को सपोर्ट करती है php को कोड server पर ही एक्सीक्यूट किया जाता है
  • can interact with databases-php के द्वारा आप डेटाबेस के साथ interact कर सकते है php सारे databases को भी सपोर्ट करती है जैसे php का प्रयोग करते हुए databases से interact करना बहुत आसन है
  • secure-जिस जिस जगह पर प्रोग्राम में php को प्रयोग करेंगे तो server side पर एक्सीक्यूट होने के बाद उसका रिजल्ट आपके webpage में php कोड को replace कर देता है और simple html के रूप में webpage पर show होता है webpage generate होने के बाद php का कोड यूजर को show नहीं होता है आपका php कोड छुपा रहता है उसे मॉडिफाई नहीं किया जा सकता है

php का future scope

अगर हम php की बात करे तो php एक बहुत ही पोपुलर और learning में easy language जो सभी छोटी और बड़ी कम्पनीज php का प्रयोग करती है बीते कुछ सालो में php को पूरी तरह change कर दिया गया है php में object oriented programming features से लेकर पोपुलर content मैनेजमेंट सिस्टम्स जैसे की जूमला और drupal के लिए भी सपोर्ट प्रोविडे किया गया है